What is android root एंड्राइड रुट क्या है

what is android root? एंड्राइड रुट क्या है -हमे फ़ोन  रुट करने की जरुरत क्यों होती है ?

Root क्या होता है(what is root) आपने ना कभी root के बारे में सुना ही होगा । आज के post हम जानेंगे Android root क्या होता है।
आपको अपने फोन को रूट करना चाहिए या नहीं करना चाहिए । इस पोस्ट पोस्ट में हम विस्तार से जानेंगे ।

Android root

Root क्या होता है (what is root)

आपको यह तो पता ही होगा कि आप जो फोन में Android operating system का इस्तेमाल करते हैं उसमें आपको जो pre installed apps या data मिलता है उसे आप uninstall या remove नहीं कर सकते । वह इसलिए होता है क्योंकि Google के android operating system में user के लिए एक restriction होता है । कोई भी user एक निश्चित सीमा के पार नहीं जा सकता ।

समझ में नहीं आया? चलिए समझाता हूं
हर Android phone में दो प्रकार के storage मिलते हैं internal और external storage
आपके फोन में internal storage एक नहीं बल्कि दो होती हैं एक internal storage जो user को use करने के लिए दी जाती है एक system की storage होती है
internal storage को हम बड़ी ही आसानी से excessकर सकते हैं ,पर system storage को हम excess नहीं कर सकते । Android का वही भाग restricted होता है ।

इसीलिए आप जब 32GB storage वाला फोन लेते हैं तो उसमें 8-10जीबी storage पहले से ही full होता है जिसे operating operating system इस्तेमाल करता है ।यह जो system storage वाला restricted भाग होता है इसी restriction को तोड़ने को ही root कहा जाता है ।

एंड्राइड फोन को root करने पर हम बड़ी आसानी से फोन के system को excess कर सकते हैं । इस प्रकार root करने पर user को super user excess मिल जाता है ।
इस Rooting प्रक्रिया के कुछ फायदे भी हैं और कुछ नुकसान है । यह फायदे और नुकसान कौन-कौन से हैं चलिए विस्तार से जान लेते हैं ।

एंड्राइड रुट के फायदे (advantage of  android root)

1.custom rom

Android को Root करने पर आप अपने फोन में custom rom install कर सकते हैं यानी कि आपका फोन जिस android version पर चल रहा है आप उसे upgrade करना चाहते हैं तो फोन को रूट करके आप उसमें custom rom instal करके ऐसा कर सकते हैं।

2. phone storage को बढ़ा सकते हैं

आपने देखा होगा कि आप जब कोई भी android मोबाइल खरीदते हैं उस में पहले से ही installed app मिलती हैं उनमें से ज्यादातर app आपके काम की नहीं होती और वह फोन के स्टोरेज को कम कर देती हैं । उसे आप चाह कर भी uninstall नहीं कर सकते ।
पर android root होने पर आप अपने system की किसी भी app को बड़ी आसानी से uninstall कर सकते हैं और अपने storage को खाली कर सकते हैं ।

3. custom fonts

वैसे तो यह feature android फोन में पहले से ही मिल जाता है इसमें आप अपने defualt fonts को change करके stylish fonts में बदल सकते हैं पर सभी कंपनी के फोन में यह सुविधा नहीं होती एंड्राइड को root करके आप अपने फोन में सैकड़ो fonts install कर सकते हैं ।

4. ad block

play store पर आपको बहुत सारी ऐसी applications मिल जाएंगी जो आपके फोन में आने वाली ad को block कर देती हैं पर यह एप्लीकेशन फोन के रूट होने पर ही काम करती हैं ।
फोन रूट करके आप बड़ी आसानी से applications में आने वाली ad को block कर सकते हैं ।

5.cpu over clock

फोन रूट करने से आप अपने cpu को overclock कर सकते हैं यानी कि आपके फोन का cpu अगर 1.8 ghz पर clocked है तो आप इसे increase कर सकते हैं या फिर आप इसे कम भी कर सकते हैं ।
cpu overclock करने पर आपका फोन पहले से fast work करेगा ‌

6. battery life

play store पर ऐसी हजारों app available हैं जो rooted phone को ही सपोर्ट करती हैं इन battery optimizer apps जिसका इस्तेमाल करके आप अपने फोन की बैटरी को लंबे समय तक चला सकते हैं ।
लंबे समय का मतलब यह नहीं ऐसे तीन तीन दिन तक इस्तेमाल कर सकते हैं पर हां बैटरी performance को normal से थोड़ा बढ़ा सकते हैं ।

एंड्राइड रुट के नुकसान  (disadvantage of  android root)

1. software crash

अगर आप अपना फोन root करते हैं और गलती से भी अपने system की किसी फाइल को डिलीट कर दिया तो पूरी पूरी संभावना है कि आपके फोन का opreting system crash हो जाएगा और आपका फोन एक डब्बा बन जाएगा ‌।
ऐसा नहीं है कि उसे ठीक नहीं किया जा सकता पर यह किसी एक normal user के बस की बात नहीं है ।

2 . mobile warranty

फोन रूट करने पर आपके फोन की वारंटी समाप्त हो जाती है । आपके फोन में कोई भी प्रॉब्लम होती है तो कंपनी उसे वारंटी पीरियड के अंदर भी ठीक नहीं करेगी फोन की खराबी सारी जिम्मेदारी आप की होती है ।

3.virous problem

फोन रूट करने पर आपके फोन में वायरस की problem बढ़ जाएगी आपके फोन में कोई भी third party app install हो सकती है और इसका आप को पता भी नहीं चलेगा और आपका सारा data चोरी हो सकता है ।

4.official update

आपका फोन Root होने पर कंपनी आपको कोई भी system update नहीं देगी ।आपके सारे official updates बंद कर दिए जाएंगे ।

5.Finencelly loss

अगर आप अपने फोन में Net banking या कोई भी पैसों का लेनदेन करते हैं तो कोई भी हैकर आपके फोन में third party app install कर सकता है और आपकी सारी गोपनीय जानकारी ले सकता है । इसे आपका बैंक अकाउंट भी खाली हो सकता है ।

 6 .phone dead problem

आपने अगर फोन को Root किया है तो जाहिर सी बात है आपके फोन की power पहले से बढ़ जाएगी आप अपने फोन को over use कर पाएंगे । इसे आपके फोन में Heating problem बढ़ जाएगी और ऐसा लंबे समय तक होने पर आपका फोन dead भी हो सकता है ।

Android Phone को रूट कैसे करें(how to root Android phone)

फोन को Root करने के लिए बहुत सारे तरीके है जिन्हें follow करके आप Android phone को रूट कर सकते हैं इस पोस्ट में हम बताएंगे कि Kingoroot app से फोन को कैसे Root किया जाता है ।
Kingoroot app windows और Android दोनों के लिए available है और आप इसे Kingoroot की official website से Download कर सकते हैं ।Kingoroot app आपको one click root की सुविधा देती है यानी कि आप सिर्फ एक क्लिक से अपने फोन को रूट कर सकते हैं ।

Kingoroot से एंड्राइड को रूट करने के लिए नीचे दिए स्टेप्स फॉलो कर सकते हैं ।

  • सबसे पहले आपको Kingoroot app को Download करके install करना है । Kingoroot app आपको play store पर नहीं मिलेगी ।
    आपको इसके लिए Kingoroot की official website पर जाना होगा ।
  • जब आप Kingoroot app को install करेंगे तो आपको install blocked की warning आएगी इसके लिए आपको सेटिंग में जाकर unknown sources को allow करना होगा तभी आपकी app install होगी ।
  • App install करने के बाद आपने इसे open करना है और one click root पर क्लिक करना है । क्लिक करने के बाद 100% तक process होगी और आपका फोन रूट हो जाएगा ।
    Note: Kingoroot से रूट करते समय आपके फोन का Bootloader unlock होना जरूरी है । Bootloader unlock करने का process सभी मोबाइल फोन manufacturer का अलग-अलग होता है ।आपके पास जिस भी कंपनी का मोबाइल है के हिसाब से Bootloader unlock कर सकते हैं ।

क्या 2020 में Android root करने की जरूरत है?

देखिए वैसे तो सभी की जरूरतें अलग-अलग होती हैं पर फिर भी देखा जाए आज के जमाने में फोन में वह सभी features जिनके लिए आप फोन को Root करते हैं, Google पहले से ही provide करवाता है।

सबसे पहले अगर हम बात करें मेमोरी की तो आज के Android phone मे मेमोरी की प्रॉब्लम नहीं होती आपको 32GB, 64GB, 128GB के smartphone हर किसी के पास मिल जाएंगे ।जिनमें मेमोरी की कोई कमी नहीं होती ।

Next अगर हम बात करें फोन की processing speed की तो आज normal बजट के फोन की processing speed बहुत अच्छी होती है । आज के जमाने के मोबाइल के cpu बहुत ही powerful है । और इन powerful CPU वाले फोन की कीमत भी इतनी ज्यादा नहीं है । इसलिए शायद हमें CPU power की कोई प्रॉब्लम नहीं आती ।

आज के जमाने के फोन में PUBG जैसे Hi End games मक्खन की तरह चलते हैं । ऐसे में हम CPU की power बढ़ाने के लिए फोन को रूट क्यों करेंगे ।
अगर हम बात करें Battery की तो आज के स्मार्टफोन में बहुत ही अच्छी बैटरी कंपनी दे रही हैं । अगर हम 4-5 साल पहले के Phones में देखें दो 1500mah,1600mah या 2000mah तक की ही बैटरी आपके स्मार्टफोन में मिलती थी, पर आजकल के स्मार्टफोन में 4000mah की बैटरी होना आम बात है ।Normally हर स्मार्टफोन की बैटरी बड़ी ही आसानी से एक से डेढ़ दिन तक आसानी से चल जाती हैं जो कि मेरे हिसाब से पर्याप्त है ।

अगर आप मुझसे पूछेंगे कि Android को रूट करने चाहिए या नहीं , तो मेरा एक ही जवाब है, नहीं आपको अपने फोन को रूट नहीं करना चाहिए ।

आखिरी शब्द

मैं आपको यही कहना चाहूंगा आपको root के नुकसान से कोई फर्क नहीं पड़ता तो तो आप Rooting की तरफ जाइए ।आज से 5-6 साल पहले बहुत से ऐसे काम होते थे जो Rooting के बिना नहीं हो सकते थे और धीरे-धीरे Google ने इसमें सुधार किया।

अब लगभग सारे features आपको बिना रूट के ही मिल जाते हैं । आने वाले समय में Android में और भी सुधार होगा. तब आपको बिल्कुल भी root की की जरूरत नहीं पड़ेगी।

दोस्तों अगर यह पोस्ट आपको अच्छी लगी तो किसे आप Facebook, Twitter, WhatsApp पर शेयर करना मत भूले । अगर आप की कोई राय हो तो हमें कमेंट में जरूर बताएं।


यह भी पढ़े

free bollywood movies download

iptv kya hai

How to change jiofi password in hindi

About The Author

Reply